कब तक चलेगी अपने समाज से झूठ बोलने की राजनीति

इन दिनों विश्व के अनेक देशों में शासक लोग अपने समाज से सच छुपाते और झूठ बोलते हैं परंतु ऐसा शासन अधिक दिन नहीं टिक

ढाँचे के ढहने पर आया न्यायिक निर्णय और राजनीति

जिस दिन बाबरी ढांचा ढहा, ठीक उसी दिन शाम को मैंने दिल्ली में एक प्रेस वक्तव्य दिया । यह वह समय था जब मैं स्वयं

सुशांत सिंह राजपूत केस- क्या सियासत की भेंट चढ जाएगी सच की जंग?

14 जून, 2020,मुम्बई। अचानक न्यूज की सुर्खियां बदल जाती हैं। कोरोना की जंग के बीच एक दिल-दहलानें वाली ख़बर। आम जनता के लिए ये बस

'परशुराम की प्रतीक्षा' में भारतीय लोकतंत्र!

उत्तर प्रदेश में तीर धनुष वाले राम की एकाधिकारवादी संस्कृति की राजनीति के विरुद्ध फरसा वाले परशुराम के विस्तार की सांस्कृतिक राजनीति ‘हिंदू राष्ट्रवाद की